लोगों की मदद करने की बजाए भाग निकला स्टाफ

0
mumbai-fire-police-says-pubs-manager-and-other-staff-fled-122917-default

mumbai-fire-police-says-pubs-manager-and-other-staff-fled-122917-3

जांच में पाया गया है की पब में सुरक्षा मानकों को नज़र अंदाज़ करके नियमों का उल्लंघन कर अतिक्रमण करने का कारण आपात निकास द्वार भी बाधित हो गया था | पुलिस ने बताया की आग में झुलसे लोगो की मदद के बजाय पब का प्रबंधक और अन्य कर्मचारी मौके से भाग निकले |

पुलिस ने बताया की, कहा, ‘‘पब ने किसी सुरक्षा मानक का पालन नहीं किया था | आग की स्थिति में ग्राहकों के सुरक्षित बाहर निकलने के लिए प्रबंधन ने कोई व्यवस्था नहीं की थी |’’ वही कुछ लोगो ने मीडिया से बात की करते हुए कहा की ‘‘पब की लापरवाही के कारण 14 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य झुलस गए और आग में घायल हुए लोगों की कोई मदद किये बगैर प्रबंधन और अन्य कर्मचारी पब से भाग गए |’’

इसके बाद जब मामला और ज्यादा गहराया तो एक स्थानीय निकाय के अधिकारी ने बताया कि बृहन्मुंबई महानगरपालिका नियम ‘‘उल्लंघन’’ के मामले में इस पब पर 3 बार कार्यवाही की जा चुकी है | अधिकारी का कहना है की इस पब ने अक्तूबर 2016 में नगर निकाय से अग्नि सुरक्षा एवं निर्माण अनुमति प्राप्त की थी |

अधिकारी ने माना की इस पब ने ‘1एबव’ पब ने मानकों एवं नियमों का उल्लंघन कीऔर खुले जगह का इस्तेमाल वाणिज्यिक गतिविधि के लिए करने पर बृहन्मुंबई महानगरपालिका ( बीएमसी ) ने पब प्रबंधन के खिलाफ 27 मई 2017 को इस पर कार्यवाही भी की थी |

mumbai-fire-police-says-pubs-manager-and-other-staff-fled-122917-1

अधिकारी की माने तो इस साल बीमएसी ने पब को चार अगस्त, 22 सितंबर तथा 27 अक्तूबर को नोटिस जारी कर खुले स्थान का अतिक्रमण छोड़ने के लिए कानूनी तौर पर नोटिस भी भेजा था | वही पुलिस अधिकारी की माने तो उन्होंने पब का प्रबंधन करने वाले हृतेश सांघवी, जिगर सांघवी और अभिजीत मनका के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 304 ए, 337 तथा 338 के तहत मामला दर्ज़ कर लिया है |

आपको बताना चाहेंगे की मुंबई के एक पॉश इलाके में एक परिसर की छत पर स्थित पब में चल रहे जन्मदिन की पार्टी 12 से ज्यादा परिवारों के लिए मातम में तब्दील हो गयी | आधी रात चल रही पार्टी में अचानक आग लग गयी जिसमे 21 लोग झुलस कर घायल हो गए और 14 लोग मारे गए |

आपको बताना चाहेंगे की रात करीब साढ़े बारह बजे छत पर स्थित ‘1 एबव’ पब में आग लगी और जल्द ही तीसरी मंजिल पर स्थित ‘मोजो पब’ भी इसकी चपेट में आ गया | हादसे के बाद ज्यादा लोग केईएम अस्पताल में लाये गए थे और वह के डॉक्टर डीन अविनाश सुपे ने कहा कि 11 महिलाओं सहित ज्यादातर लोगों की मौत धुएं से दम घुटने की वजह से हुई |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × five =